Online Fraud

Online Fraud

Online Fraud- आज के डिजिटल युग में, भारत में बड़ी संख्या में लेनदेन डिजिटल भुगतान के माध्यम से किए जाते हैं। समवर्ती रूप से, बैंकिंग ऐप्स के माध्यम से खातों के प्रबंधन और महत्वपूर्ण वित्तीय लेनदेन की सुविधा प्रदान की जाती है। इन ऐप्स ने लाखों लोगों के लिए लेनदेन करना सुविधाजनक बना दिया है, लेकिन डिजिटल लेनदेन में वृद्धि से साइबर अपराध का खतरा भी बढ़ गया है। ऐसी घटनाएं नियमित रूप से होती रहती हैं जहां व्यक्ति ऑनलाइन घोटालों का शिकार हो जाते हैं, जिसके परिणामस्वरूप उनके खातों से अनधिकृत स्थानांतरण होते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए,

सरकार ने एक समर्पित हेल्पलाइन नंबर जारी किया है जिसके बारे में प्रत्येक नागरिक को पता होना चाहिए, ताकि उन स्थितियों में सहायता प्रदान की जा सके जहां उनके खातों से छेड़छाड़ की गई हो। Online Fraud

Online Fraud

Online Fraud हेल्पलाइन नंबर पर कॉल

जैसे-जैसे साइबर अपराध बढ़ते जा रहे हैं, ऐसे उदाहरण सामने आते हैं जहां व्यक्ति अनजाने में दुर्भावनापूर्ण लिंक पर क्लिक करते हैं या धोखाधड़ी वाले ऐप्स डाउनलोड करते हैं, जिससे उनके खातों से दूसरों के खाते में अनधिकृत हस्तांतरण होता है। अगर आप भी कभी खुद को ऐसी स्थिति में पाएं तो घबराने की जरूरत नहीं है। इसके बजाय, घटना की रिपोर्ट करने और मार्गदर्शन लेने के लिए तुरंत गृह मंत्रालय (एमएचए) द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करें।

Online Fraud

साइबर अपराधों की तुरंत रिपोर्ट करने के लिए, 1930 डायल करें। इस नंबर पर कॉल करते समय, सुनिश्चित करें कि आप अपनी यूपीआई आईडी या लिंक किए गए बैंक खाते से संबंधित विवरण प्रदान करें। यह समर्पित हेल्पलाइन नागरिक वित्तीय साइबर धोखाधड़ी रिपोर्टिंग और प्रबंधन प्रणाली का हिस्सा है। कॉल करने पर आपसे साइबर क्राइम की घटना से संबंधित जानकारी मांगी जाएगी।इस हेल्पलाइन पर संपर्क करने के बाद आपकी शिकायत पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

 

Technical Education Scholarship : हमारे डिप्लोमा-स्तरीय तकनीकी शिक्षा छात्रवृत्ति कार्यक्रम के साथ उत्कृष्टता की ओर बढ़ें

Online Fraud साइबर अपराध की रिपोर्ट

अधिकारी मामले की तुरंत जांच करेंगे और आपके खाते से गलत तरीके से निकाली गई धनराशि वापस पाने का प्रयास किया जाएगा। हेल्पलाइन टोल-फ्री है और 24/7 संचालित होती है, जिससे नागरिक किसी भी समय साइबर अपराध की रिपोर्ट कर सकते हैं।निष्कर्षतः, डिजिटल लेनदेन में वृद्धि के साथ, साइबर खतरों के प्रति सतर्क रहना महत्वपूर्ण है। समर्पित हेल्पलाइन नंबर के बारे में जागरूक होना और साइबर अपराध की घटना के मामले में तुरंत पहुंचना सुनिश्चित करता है

Online Fraud

कि अधिकारी समस्या के समाधान के लिए तत्काल कार्रवाई कर सकते हैं। सरकार की इस पहल का उद्देश्य नागरिकों को साइबर अपराधों की रिपोर्टिंग और समाधान करने, डिजिटल क्षेत्र में उनकी वित्तीय संपत्तियों की सुरक्षा करने का त्वरित और प्रभावी साधन प्रदान करना है।

बेंगलुरु में अराजकता : कन्नड़ समर्थक समूहों ने ‘60%’ दुकान ऑर्डर को लेकर हंगामा किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *