Bihar Teacher Competency Test

Bihar Teacher Competency Test

Bihar Teacher Competency Test  – बिहार शिक्षक पात्रता परीक्षा (बीटीईटी) परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण दिशानिर्देश: चूकें नहीं!

बिहार में इच्छुक शिक्षकों के लिए प्रवेश द्वार, बिहार शिक्षक पात्रता परीक्षा (बीटीईटी) परीक्षा 26 फरवरी से शुरू हो गई है और 6 मार्च तक जारी रहेगी। सभी तैयारियों के बीच, उम्मीदवारों को एक सुचारू और सफल परीक्षा प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण दिशानिर्देशों पर ध्यान देना चाहिए। Bihar Teacher Competency Test

CRIS Recruitment :रेलवे कैरियर ओडिसी बिना परीक्षा के रोजगार की यात्रा पर निकलें, बस इस प्रमाणपत्र की आवश्यकता है, शानदार वेतन के साथ!

परीक्षा तिथियां और समय

बीटीईटी परीक्षा बिहार के नौ जिलों के 52 कंप्यूटर केंद्रों पर आयोजित की जा रही है। यह प्रतिदिन दो पालियों में चलता है: पहली पाली सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक और दूसरी पाली दोपहर 3:00 बजे से शाम 5:30 बजे तक। पहली पाली के लिए रिपोर्टिंग का समय सुबह 8:30 बजे है, और गेट सुबह 9:30 बजे बंद हो जाते हैं। दूसरी पाली के लिए, रिपोर्टिंग समय दोपहर 1:30 बजे है, और गेट 2:30 बजे बंद हो जाते हैं। देर से आने वालों को गेट बंद होने के बाद प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी, इसलिए समय की पाबंदी सर्वोपरि है।

Bihar Teacher Competency Test

Bihar Teacher Competency Test बायोमीट्रिक उपस्थिति और विनियम

परीक्षा की शुचिता और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए बोर्ड ने बायोमेट्रिक उपस्थिति लागू की है। इसके अतिरिक्त, उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्रों में मोबाइल फोन जैसे किसी भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को ले जाने की सख्त मनाही है। केंद्र व्यवस्थापकों को निर्देशित किया गया है कि निर्धारित गेट बंद होने के समय के बाद किसी भी अभ्यर्थी को प्रवेश न दिया जाए।

प्रश्न पत्र और परीक्षा पैटर्न

बीटीईटी परीक्षा बहुविकल्पीय प्रश्न प्रारूप का पालन करती है, जिसमें प्रत्येक सही उत्तर के लिए एक अंक होता है। गलत उत्तरों के लिए कोई नकारात्मक अंकन नहीं है। परीक्षण के दौरान अपने समय का प्रभावी ढंग से प्रबंधन करने के लिए उम्मीदवारों को परीक्षा पैटर्न से परिचित होना चाहिए।

Bihar Teacher Competency Test

Bihar Teacher Competency Test अतिरिक्त सावधानियां

उपरोक्त दिशानिर्देशों का पालन करने के अलावा, उम्मीदवारों को अधिकारियों द्वारा अनिवार्य सभी COVID-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। परीक्षा प्रक्रिया के दौरान मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना और हाथों को नियमित रूप से साफ करना आवश्यक है। Bihar Teacher Competency Test

Ayodhya Ram Mandir Pran Pratishtha : श्री रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा, अयोध्या में एक नया आध्याय

अंत में, जैसे-जैसे उम्मीदवार बीटीईटी परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे हैं, सहज अनुभव के लिए इन महत्वपूर्ण दिशानिर्देशों को याद रखना अनिवार्य है। समय की पाबंदी, नियमों का अनुपालन और परीक्षा पैटर्न से परिचित होना सफलता की कुंजी है। इन निर्देशों का लगन से पालन करके, उम्मीदवार आत्मविश्वास और सक्षमता के साथ बीटीईटी परीक्षा दे सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *